मंगलवार, सितंबर 22, 2009

शशि थरूर जी यह लोकतंत्र है

शशि थरूर जी आप कभी एक बड़े अधिकारी थे लेकिन अभी एक जिम्‍मेदार मंत्री हैं. यह प्रशासनिक सेवा का पद नहीं है बल्कि जनसेवा का पद है. ऐसे में आपके कहे सभी बातों का मतलब निकाला जाएगा. यहां के लिए आपको शब्‍दों का चयन सही तरीके से करना होगा नहीं तो यह पब्लिक है...

कोई टिप्पणी नहीं: